PGTI Feeder Tour, Jaipur

Jaipur. the PGTI Feeder Tour event - Jaipur. the PGTI Feeder Tour  winner Angad Cheema and runner-up Richard Stephen Hilton.

जल संकट प्रशासनिक विफलता की देन-वसुन्धरा

ब्यावर/मसूदा/केकड़ी/अजमेर 30 मई। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा है कि प्रशासनिक विफलता, प्रशासनिक अक्षमता और प्रशासन की दृढ़ इच्छा शक्ति की कमी के कारण राजस्थान में पेयजल संकट के हालात उत्पन्न हुए। श्रीमती राजे सुराज संकल्प यात्रा के चैथे चरण के दूसरे भाग के शुभारंभ के अवसर पर अजमेर जिले के ब्यावर, मसूदा और केकड़ी में आयोजित विशाल जनसभाओं को सम्बोधित कर रही थी। श्रीमती राजे का इन तीनों स्थानों पर जोरदार स्वागत हुआ।
उन्होंने कहा कि केन्द्र से राजस्थान को 2011-12 में पेयजल के लिए 330 करोड़ रुपये मिले थे, लेकिन प्रशासनिक उदासीनता के कारण सिर्फ 25 करोड़ रुपयों का ही इस्तेमाल हो पाया। इसी तरह 2012-13 में 600 करोड़ रुपये केन्द्र सरकार ने पेयजल के लिए भेजे। इसमें से भी महज 18 करोड़़ रुपये ही खर्च हो पाये। वर्ष 2013-14 में 1300 करोड़ रुपये पेयजल के लिए मिले, जिसके विपरीत 56 करोड़ रुपये ही खर्च हो पाये। ये सब प्रशासनिक असफलता का ही नतीजा है।
श्रीमती राजे ने कहा कि नई दिल्ली में पेयजल आपूर्ति एवं स्वच्छता पर राज्यों के जल संसाधन मंत्रियों के सम्मेलन में राजस्थान के जल संसाधन मंत्री ने स्वीकार किया था कि राजस्थान के 32 हजार गांवों में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था नहीं है और आज वो ही जल संसाधन मंत्री अखबारों में बयान दे रहे हैं कि राजस्थान के किसी भी क्षेत्र में पीने के पानी का संकट नहीं है। प्रदेश में पीने के पानी का संकट नहीं है तो केन्द्र सरकार से पेयजल व्यवस्था के लिए 50 हजार करोड़ रुपये क्यों मांगे गये?
उन्होंने कहा कि हाल ही में जो इकोनोमिक सर्वे रिपोर्ट 2012-13 आई है उसमें बिहार जैसे राज्य की विकास दर 16.71 है, लेकिन हमारे प्रदेश की विकास दर 5.41 पर आकर टिक गई, यानि विकास दर में हमारा राजस्थान देश में सबसे नीचे और आखिर में। आज मनरेगा में भ्रष्टाचार परवान पर है। वो मनरेगा जो हमारी भाजपा सरकार के समय देश में श्रेष्ठ था। लोगों को पूरी मजदूरी मिलती थी, आज उसी मनरेगा में एक रुपये तक मजदूरी मिल रही है। क्या ये मजदूरों के साथ मजाक नहीं है। हमने हमारे समय में 10 लाख युवाओं को सरकारी और गैरसरकारी नौकरियां दी, अब जब इस सरकार के 6 महीने का कार्यकाल रह गया तो ये भी भर्तियां खोलने लगे। बेरोजगारों को नौकरियां ही देनी थी तो साढे चार साल तक क्यों नहीं दी? ओला वृष्टि हुई तो बडे़-बडे़ पैकेज का एलान कर दिया, लेकिन किसानों को मुआवजे के नाम पर कुछ भी नहीं। किसानों को डेढ़ लाख रुपये तक का ऋण बिना ब्याज देने की भी सरकार ने घोषणा की, लेकिन नतीजा कुछ भी नहीं।
श्रीमती राजे ने कहा कि जो सरकार अपने प्रदेश की जनता को मूलभूत सुविधाएं तक उपलब्ध नहीं करा सके। जिस सरकार में घर की महिलाओं की इज्जत सुरक्षित नहीं रह सके और जहां बेजुबां मूक बधिर बालिकाओं तक को जुल्मों को शिकार होना पडे़, उस सरकार को कुर्सी पर बैठने का कोई हक नहीं है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस की ये सरकार कोई भी हथकण्डा अपनाने में पीछे नहीं रहती। निर्दोष गुलाब कटारिया जी के पीछे पड़ गई। अब हम लोगों के पीछे पडे़ंगे। सीबीआई को हमारे पीछे लगायेंगे, लेकिन हमेशा जीत सच्चाई की होती है। इसलिये हमें इसकी चिंता नहीं है। हमें तो चिंता है नया राजस्थान बनाने की, जिसमें किसान के लिये बिजली, पानी, सिंचाई और खाद बीज हो, युवाओं के लिए रोजगार हो, उद्यमियों के लिए अच्छा माहौल हो, महिलाओं का सम्मान हो।
श्रीमती राजे के साथ इन सभाओं में भाजपा के राष्ट्रीय सचिव भूपेन्द्र यादव, पूर्व केन्द्रीय मंत्री कैलाश मेघवाल, पूर्व मंत्री सांवरलाल जाट, विधायक शंकर सिंह रावत, विधायक हरीसिंह रावत, विधायक भवानीसिंह राजावत, पूर्व विधायक देवी शंकर भूतड़ा, विधायक जसवंत यादव, विधायक अशोक डोगरा, पूर्व सांसद पुष्प्प जैन, पूर्व विधायक शंभुदयाल बडगुर्जर, युवा नेता शत्रुधन गौतम, पूर्व प्रधान भूपेन्द्र सिंह शक्तावत, रिंकु कंवर, विधायक बाबूसिंह राठौड़, पूर्व मंत्री सुरेन्द्र गोयल, भाजपा के जिलाध्यक्ष नवीन शर्मा सहित कई नेता मौजूद थे।  

धुम्रपान निषेध दिवस की पूर्व संध्या पर डीबेट

जयपुर .बाल भवन जयपुर में धुम्रपान निषेध दिवस की पूर्व संध्या पर डीबेट एवं क्विज कार्यशाला का आयोजन बाल भवन परिसर में किया गया.

पुलिस ने लूट के संदिग्धों के स्केच जारी किए

जयपुर, 28 मई। पुलिस थाना, सांगानेर द्वारा प्रतापनगर सांगानेर मे तीन व्यक्तियों द्वारा किराये का मकान पुछने के बहाने आने और मकान मालिक के लडके व नौकर के हाथ पैर बांध कर नषीला पदार्थ सुध्ंााकर मकान से जेवर व नगदी लुट कर ले जाने के मामले में संद्धिग्ध व्यक्तियों के स्केच जारी किए गए हैं। 

bribe case raid by acb rajasthan


PGTI Feeder Tour: Rookies Ashbeer and Honey Baisoya shine in round one

Jaipur. Ashbeer S  aini of Kapurthala and Delhi's Honey Baisoya, both playing in their first season on the PGTI, shot scores of four-under-66 to be the joint leaders in the first round at the PGTI Feeder Tour event being played at the Rambagh Golf Club in Jaipur. Dipankar Kaushal of Noida was in third place having posted a three-under-67.

 

While Ashbeer Saini fired a bogey-free 66, Honey Baisoya's round featured six birdies and two bogeys.

 

Saini said, "I was in brilliant putting form today as I sank birdie putts from 20 and 15 feet on the 10th and third respectively. I also created some birdie opportunities with my hitting. I almost drove the par-4 green on the seventh and found the green in two on the par-5 eighth for successive birdies. I've gained some good experience this year and the runner-up finish in my first event lifted my confidence."

 

Baisoya, who played alongside Ashbeer on the amateur circuit till last year, said, "The top-10 finish in Nepal couple of weeks back has helped me raise my game. My putter was hot on the front-nine today as I sank birdie putts from 10 feet on the first and fifth. I also hit it really well. I landed my tee shot within five feet for birdie on the fourth. I narrowly missed out on eagle opportunities on the 12th and 18th where I eventually bagged birdies. My approach shot from 150 yards landed within one inch of the pin on the 12th while my eagle putt from 15 feet lipped out on the 18th."

Dipankar Kaushal is one stroke off the lead in third place. His round featured an eagle on the 18th, four birdies and three bogeys.

Jaipur's Vishal Singh is in tied fourth along with Gurgaon's Arshpreet Thind and Richard Stephen Hilton of Dehradun at two-under-68.

  

जयपुर फुटबॉल क्लब: वन वीक फुटबॉल फेस्टिवल लीग

जयपुर। ऑक्सफर्ड इन्टरनेषनल एकेडमी स्कूल, वैशाली नगर, जयपुर पर आयोजित वन वीक फुटबॉल फेस्टीवल लीग के पहले मैच में रॉयल एसी ने यंगस्टर एफसी को 8-0 से हराया। रॉयल एफसी के नीतेष की ओर से शानदार चार गोल मारे गये। टीम की ओर से अनन्या और रोहित ने 2-2 गोल करके अपनी टीम की बढत को बनाये रखा। 

द्वितीय मैच में स्पार्टन एफसी ने वॉरियर्स एफसी को 2-1 से पराजित किया। खेल की शुरूआत के तीसरे एवं आठवें मिनट पर आलोक पूनीया के द्वारा किये गये गोल को पहले हाफ तक वोरियर्स उतार नहीं पाये। 

दूसरे हाफ में अच्छे खेल का प्रदर्षन करते हुये वॉरियस एफसी के आषीष ने 40वें मिनट में 1 गोल करने में सफलता प्राप्त की। वॉरियस एफसी को एक पैनल्टी भी मिली जो कि गोल में बदलने में नाकाम रहे। 

जयपुर फुटबॉल क्लब के सचिव रॉबिन जेवीयर के अनुसार यह प्रतियोगिता छः दिन तक खेली जायेगी।

दिनांक 29 मई को निम्न मैच खेले जायेंगे:-
जयपुर हीरोज एफसी बनाम जेनपैक्ट एफसी समय 4. 00 बजे
मैयो एफसी बनाम रॉयल एफसी समय 5. 00 बजे       
वॉरियर एफसी बनाम जीजेएन एफसी समय 6. 00 बजे   

12वीं विज्ञान:जोधपुर का सुरेन्द्रपाल बना topper


 
जयपुर। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान की ओर से गुरूवार को जारी 12वीं विज्ञान वर्ग की वरियता सूची में जोधपुर के सुरेन्द्रपाल सिंह राठौड़ अव्वल रहे हैं। सुरेन्द्र ने 488 प्राप्तांकों के साथ 97.6 प्रतिशत अंक हासिल किए।

टॉप 10 रैंक में 15 स्टूडेंट्स ने जगह बनाई है,इनमें दूसरे व तीसरे दोनों स्थानों पर बेटियों ने कब्जा जमाया है। दूसरे स्थान पर गुढ़ा गौड़जी(झुंझुनूं) की अवंतिका शेखावत(96.8) और तीसरे स्थान पर कोटा की योगिता सिंघल(96.6) रही हैं। 

वरियताक्रम में चौथे और पांचवें स्थान पर केशवपुरा के ऋषभ मालव और वीरेन्द्र खंडेलवाल रहे। सीकर के अनूप कुमार कुमावत छठे,जयपुर के प्रखर डेरोलिया सातवें,(खैरथल)अलवर की मेघा शर्मा आठवें,जयपुर के आयुष शर्मा नौवें और गुढ़ा गौड़जी(झुंझुनूं) की पिंकी कुमारी दसवें स्थान पर रही।

ग्यारवें स्थान पर ब्यावर की नेहा भोजवानी,बारहवें स्थान पर कोटा के अकीब जावेद,तेरहवें स्थान पर रिंगस(सीकर) के हेमंत सोनी,चौहदवें स्थान पर अर्जुन नगर के मनीष कुमार और पन्द्रहवें स्थान पर सीकर की कोमल कंवर काविया रहीं।

Indrani Bagchi at Indo China Discussionभारत और चीन में युद्ध की कोई सम्भावना नहीं: बागची

जयपुर. लदख मुद्दे पर भारत और चीन में युद्ध की कोई सम्भावना नहीं है। यह
कहना था विदेश नीति मामलों की प्रोफेशनल और अनुभवी मीडियाकर्मी, श्रीमती
इंद्राणी बागची का। वह शनिवार को फिक्की लेडीज ऑर्गेनाइजेशन (फिक्की
फ्लो) के जयपुर चेप्टर और टाई राजस्थान (द इंडस एन्टेप्यूनर्स) द्वारा
भारत और चीन सम्बंधों पर संयुक्त रूप से आयोजित एक परिचर्चा के अवसर पर
बोल रही थी। इस अवसर पर फिक्की फ्लो के जयपुर चेप्टर की नवनिर्वाचित
चेयरपर्सन,बेला बधालिया और टाई राजस्थान के प्रेसीडेंट मनुज गोयल भी
उपस्थित थे।


बागची ने विस्तार से बताया कि चीन एवं भारत दोनों ही परिपक्व देश है और
यह समय दोनो देशों के लिये युद्ध के लिये अनुकूल नहीं है। उन्होंने यह भी
बताया कि चीन के मुकाबले भारत की सैन्य ताकत एवं तैयारी पर्याप्त नहीं
है। भारत का राजनीतिक नेतृत्व में 1962 के युद्ध में चीन से हारने के
परिणामस्वरूप अभी तक आत्मविश्वास की कमी में है जबकि भारतीय सेना की सोच
इससे विपरीत है। चीन द्वारा भारतीय बार्डर पर किये जा रहे घुसपैठ पर
प्रकाश डालते हुये बागची ने बताया कि दोनों देशों के बीच एक स्पष्ट
सीमारेखा नहीं होने के साथ ही चीन के वर्तमान नेताओं द्वारा भारतीय
राजनीति का परीक्षण इस घुसपैठ के पीछे का मकसद हो सकता है।



बागची ने आगे बताया कि जब चीन 15 अप्रैल को भारत में घुसपैठ कर रहा था
उसी समय भारतीय फौज को उन्हें घेर लेना चाहिए था और उनकी सप्लाई लाईन्स
काट देनी चाहिए थी। इस कार्य के लिये भारतीय सेना सक्षम थी और उनमें
आत्मविश्वास भी था लेकिन भारतीय राजनीतिक नेतृत्व द्वारा निर्णय लेने में
देरी के चलते अब तक चीन ने चौकी पर अपनी स्थिती मजबुत कर ली है।



भारत और चीन के व्यापारिक स्थितीयों को स्पष्ट करते हुये बागची ने बताया
कि भारत के मुकाबले चीन की जीडीपी ग्रोथ तीन गुना अधिक है तथा साथ ही एक
सिंगल पार्टी लीडरशीप होने के कारण उनके निर्णय भारत के मुकाबले तीव्र
गति से होते है। इसी प्रकार भारत के मुकाबले चीन में मजदूर लागत कम होने
के कारण उनके उत्पादन की कीमत भारत के उत्पादों से काफी कम है, लेकिन
भारत की क्वालिटी चीन के मुकाबले बेहतर है। इसी प्रकार से चीन के
आधारभूत संरचना भारत के तुलना में काफी आगे है।



कार्यक्रम के शुरूआत में श्रीमती बेला बधालिया और मनुज गोयल ने श्रीमती
इंद्राणी बागची का स्वागत किया।

Indrani Bagchi at Indo China Discussion

जयपुर. लदख मुद्दे पर भारत और चीन में युद्ध की कोई सम्भावना नहीं है। यह
कहना था विदेश नीति मामलों की प्रोफेशनल और अनुभवी मीडियाकर्मी, श्रीमती
इंद्राणी बागची का। वह शनिवार को फिक्की लेडीज ऑर्गेनाइजेशन (फिक्की
फ्लो) के जयपुर चेप्टर और टाई राजस्थान (द इंडस एन्टेप्यूनर्स) द्वारा
भारत और चीन सम्बंधों पर संयुक्त रूप से आयोजित एक परिचर्चा के अवसर पर
बोल रही थी। इस अवसर पर फिक्की फ्लो के जयपुर चेप्टर की नवनिर्वाचित
चेयरपर्सन,बेला बधालिया और टाई राजस्थान के प्रेसीडेंट मनुज गोयल भी
उपस्थित थे।


बागची ने विस्तार से बताया कि चीन एवं भारत दोनों ही परिपक्व देश है और
यह समय दोनो देशों के लिये युद्ध के लिये अनुकूल नहीं है। उन्होंने यह भी
बताया कि चीन के मुकाबले भारत की सैन्य ताकत एवं तैयारी पर्याप्त नहीं
है। भारत का राजनीतिक नेतृत्व में 1962 के युद्ध में चीन से हारने के
परिणामस्वरूप अभी तक आत्मविश्वास की कमी में है जबकि भारतीय सेना की सोच
इससे विपरीत है। चीन द्वारा भारतीय बार्डर पर किये जा रहे घुसपैठ पर
प्रकाश डालते हुये बागची ने बताया कि दोनों देशों के बीच एक स्पष्ट
सीमारेखा नहीं होने के साथ ही चीन के वर्तमान नेताओं द्वारा भारतीय
राजनीति का परीक्षण इस घुसपैठ के पीछे का मकसद हो सकता है।



बागची ने आगे बताया कि जब चीन 15 अप्रैल को भारत में घुसपैठ कर रहा था
उसी समय भारतीय फौज को उन्हें घेर लेना चाहिए था और उनकी सप्लाई लाईन्स
काट देनी चाहिए थी। इस कार्य के लिये भारतीय सेना सक्षम थी और उनमें
आत्मविश्वास भी था लेकिन भारतीय राजनीतिक नेतृत्व द्वारा निर्णय लेने में
देरी के चलते अब तक चीन ने चौकी पर अपनी स्थिती मजबुत कर ली है।



भारत और चीन के व्यापारिक स्थितीयों को स्पष्ट करते हुये बागची ने बताया
कि भारत के मुकाबले चीन की जीडीपी ग्रोथ तीन गुना अधिक है तथा साथ ही एक
सिंगल पार्टी लीडरशीप होने के कारण उनके निर्णय भारत के मुकाबले तीव्र
गति से होते है। इसी प्रकार भारत के मुकाबले चीन में मजदूर लागत कम होने
के कारण उनके उत्पादन की कीमत भारत के उत्पादों से काफी कम है, लेकिन
भारत की क्वालिटी चीन के मुकाबले बेहतर है। इसी प्रकार से चीन के
आधारभूत संरचना भारत के तुलना में काफी आगे है।



कार्यक्रम के शुरूआत में श्रीमती बेला बधालिया और मनुज गोयल ने श्रीमती
इंद्राणी बागची का स्वागत किया।

जयपुर में गणगौर माता की सवारी के दौरान रहेगी यातायात की विशेष व्यवस्था

पुलिस उपायुक्त यातायात श्री हैदर अली जैदी ने बताया कि प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी गणगौर माता की सवारी 30 एवं 31 मार्च को साय 6 पी.एम पर न...