शराबबंदी पर राजनीति किसने की? कांग्रेस सरकार ने? गहलोत ने? या भाजपा ने?



हलोत ने विधान सभा चुनाव से पहले शराब बंदी के लिए छाबड़ा से जो समझौता किया था। नई बनी वसुन्धरा राजे की सरकार ने उस समझौते को तोड़ मरोड़ दिया। इसके चलते पांच महीने बाद ही छाबड़ा को 1 अप्रेल 2014 से अपना अनशन शुरु करना पड़ा। इस दिन से सरकार ने नई आबकारी नीति के तहत शराब की दुकानों के लाइसेंस के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे। एक तरह से यह सरकार और छाबड़ा में सीधी टकराव की शुरुआत थी। इस के चलते सरकार का छाबड़ा से अनशन के 45 वें दिन समझौता हुआ।

कैफीन की लत से बढ़ रही नपुंसकता

एक दिन में 200 मिली ग्राम से ज्यादा कॉफी पीने से शरीर में एस्ट्रोजन का उत्पादन बढ़ जाता है। एस्ट्रोजन का स्तर बढ़ने से महिला और पुरुषों दोनों में प्रजनन संबंधी विकार और नपुंसकता पैदा होती है। कामकाजी लोगों के कॉफी, चाकलेट और कोला एक मजबूत तनावरोधी का काम करते हैं और युवा पीढ़ी खासतौर से उत्तेजना के लिए इनका इस्तेमाल करती है, लेकिन जब इसकी तलब लत में बदल जाती है तो यह नपुंसकता पैदा करने लगता है।
लीलावती अस्पताल, मुंबई के नपुंसकता विशेषज्ञ डॉ. रिषिकेश पाई का कहना है कि बहुत ज्यादा कॉफी पीने से पुरुषों की प्रजनन क्षमता प्रभावित होती है। जो पुरुष रोजाना दो कप या उससे ज्यादा कॉफी पीता है उसमें बाप बनने की संभावना बहुत कम होती है। जबकि लड़कियों में कैफीन फेलोपियन ट्यूब में पेसमेकर कोशिकाओं की प्रणाली को बाधित कर देता है। 
ये कोशिकाएं ट्यूब संकुचन का काम करती हैं और अंडों को ट्यूब में नीचे जाने से रोकती है। लेकिन जब महिलाएं बहुत ज्यादा कैफीन लेती हैं। उन्हें गर्भधारण करने में कैफीन नहीं लेनेवालों की अपेक्षा ज्यादा समय लगता है।
इसलिए, अगर आप कुछ महीनों से परिवार को बढ़ाने की तैयारी में लगे हैं, लेकिन सफलता नहीं मिल रही है तो चाय, कॉफी, कोला और कोकोआ में पाए जानेवाले कैफीन की मात्रा कम से कम ले, खासतौर पर तब जब आप रोजाना 200 मिली ग्राम से ज्यादा कैफीन का उपभोग कर रहे हों।
नर्चर आईवीएफ सेंटर की �ी रोग विशेषज्ञ और प्रसूति विज्ञानी डॉ. अर्चना धवन बजाज का कहना है कि कैफीन की ज्यादा मात्रा का सेवन करने वालों को प्रजनन संबंधी समस्याओं से लेकर गर्भपात तक की समस्या हो सकती है। इसलिए महिलाओं को उन खाने-पीने की उन चीजों का कम सेवन करना चाहिए, जिसमें ज्यादा मात्रा में कैफीन पाया जाता है, खासतौर पर जब वे गर्भधारण की अवस्था में हो या गर्भधारण करने की कोशिश कर रही हों। 
डॉ. धवन आगे बताती हैं कि गर्भवती महिलाओं को न सिर्फ कैफीन के सेवन से बचना चाहिए, बल्कि इसकी जगह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक चीजों जैसे शराब या चीनी से भरपूर सॉफ्ट ड्रिंक आदि से भी बचना चाहिए। (एजेंसी)

राहुल गांधी को देशद्रोही बताने वाले बैठे रहे, कांग्रेसी खड़े-खड़े नारे लगाते रहे


राजस्थान कांग्रेस के विधायकों ने सोमवार को विधानसभा के वेल में आकर पार्टी के खिलाफ बयानबाजी करने वाले भाजपा नेताओं को लेकर हंगामा खड़ा कर दिया. वहीं राहुल गांधी को 'देशद्रोही' कहने और 'गोली शूट कर देनी चाहिए' जैसे बयान देने वाले भाजपा विधायक आराम से बैठे नजर आए.  इस तरह 14वीं विधानसभा के बजट सत्र का का यह पहला दिन हंगामे की भेंट चढ़ गया.
  7th pay commission #Agriculture 2016 #Arun Jailtley #Arun Jaitley #BJP government #Budget 2016 #Budget highlights #Economy 2016 #GST 2016 #Make in India 2016 #Retail 2016 #Start-up India #Swachh Bharat cess #taxes #trade deficit #Union Budget 2016 #Union Budget 2016-17 #Union Budget for 2016-17 #जयपुर #राजस्थान

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के काफिले ने बाइक सवारों को रौंदा

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सोमवार 15 फरवरी को जोधपुर दौरे पर थी. उनका काफिला पावटा से गुजर रहा था तभी दो बाइक सवारों को उनके साथ चल रही कार ने टक्कर मार दी. टक्कर मारने वाली कार के पीछे दो और गाड़ियां थी और पुलिस वाहन भी लेकिन किसी ने भी घायल युवकों को अस्पताल पहुंचाने की भी जेहमत नहीं उठाई।

7वीं जयपुर मैराथन में दौड़े 60 हजार रनर, इथोपिया के वुर्कू दिरेस बने चैम्पियन

 राजस्थान की राजधानी जयपुर में रविवार सुबह 6 बजे से शुरू हुई सातवीं जयपुर मैराथन में 60 हजार से ज्यादा लोग दौड़े.
जेएलएन मार्ग ट्रेक पर जयपुर को स्मार्ट साथ स्वस्थ और स्वच्छ जयपुर बनाने के लक्ष्य के साथ बच्चे, बड़े और बुजुर्ग सभी दौड़ते नजर आए.

इथोपिया के वुर्कू  दिरेस बने चैम्पियन

सियाचिन के जांबाज की सलामती के लिए सचिन ने मांगी दुआ

सियाचिन में हुए हिमस्खलन के छह दिन बाद जिन्दा वापस लौटे लांस नायक हनुमनथप्पा कोप्पड़ के लिए पूरा देश दुआएं मांग रहा है. क्रिकेट के भगवान सचिन ने भी लांस नायक के लिए दुआएं मांगी हैं. सचिन इस हादसे में मारे गए जवानों को ट्वीट कर श्रद्धांजलि भी दी है.

सचिन ने क्या दुआ मांगी-  
सचिन ने ट्वीट के जरिए कहा है, ” मैं लांस नायक हनुमनथप्पा कोप्पड़ के लिए दुआ कर रहा हूँ। उन जांबाज़ सैनिको सलाम, जिन्होंने इस हादसे में अपनी जान गवां दी।”

सरकारी नौकरी में SC,ST उम्मीदवार को मिलने वाली छूट खत्‍म, पढ़ें- 3 बड़े फैसले

राजस्थान सरकार ने बजट पूर्व हुई कैबिनेट बैठक में सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों को प्रभावित करने वाले तीन अहम फैसले लिए हैं.
संसदीय कार्य मंत्री ने बताया कि राजस्थान अधीनस्थ कार्यालय लिपिक वर्गीय सेवा नियम-1999, राजस्थान सचिवालय लिपिक वर्गीय सेवा नियम-1970 तथा राजस्थान लोक सेवा आयोग (लिपिक वर्गीय एवं अधीनस्थ सेवा) नियम और विनियम-1999 में संशोधन को भी कैबिनेट की बैठक में मंजूरी दी गई. मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में स्टेनो के लिए योग्यता में बदलाव किया गया.






वास्तुशास्त्र: दिशाएं महत्वपूर्ण हैं और घर में उनके अनुरुप रहना भी



वास्तुशास्त्र

वास्तु-शास्त्र वह विधा है जिसके माध्यम से चेतन-पुंज मनुष्य जड़बाह्य संसार से अपना तारतम्य बैठाता है और सकारात्मक सामंजस्य स्थापित करता है। वास्तुशास्त्र वास्तव में प्रकृतिचर्या का एक अंग है। इसके द्वारा हम प्रकृति से अपने अटूट नाते को सुदृढ़ बनाते हैं। 
वास्तु शास्त्र तथा वास्तु कला का वैज्ञानिक और आध्यात्मिक आधार वेद और उपवेद हैं। भारतीय वाड्.मय में आधिभौतिक वास्तुकला (आर्किटेक्चर) तथा वास्तु-शास्त्र का जितना उच्चकोटि का विस्तृत विवरण ऋग्वेद, अथर्ववेद, यजुर्वेद में उपलब्ध है, उतना अन्य किसी साहित्य में नहीं।

आज तिलकुटा चौथ है, इसे सकंट चतुर्थी, माही चौथ भी कहते हैं- पढ़ें, व्रत और कथा

संकट चौथ, संकट चतुर्थी, माही चौथ या तिलकुटा चौथ सब एक ही हैं. यह त्योंहार माघ के कृष्ण चतुर्थी को मनाया जाता है. यानी आज बुधवार 27 जनवरी को.

इस दिन संकट हरण गणपति गणेशजी का पूजन होता है और इसे सभी संकटों तथा दुखों को दूर करने वाला बताया जाता है. इस दिन महिलाएं अखंड सौभाग्य परिवार की खुशहाली के लिए उपवास रखती हैं.

इसबार भी मकर संक्रांति है 15 जनवरी को, पढ़ें- व्रत विधि

हिन्दू धर्म के अनुसार सूर्य का मकर राशि में प्रवेश करना "मकर-संक्रांति" (Makar Sankranti) कहलाता है। मकर-संक्रांति के दिन सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं। इस दिन व्रत और दान (विशेषकर तिल के दान का) का काफी महत्व होता है।
मकर संक्रांति 2016 (Makar Sankranti 2016) वर्ष 2016 में मकर संक्राति का त्यौहार 15 जनवरी को मनाया जाएगा। इस पर्व को देश में कई नामों से जाना जाता है जैसे बिहार में खिचड़ी, तमिलनाडु में पोंगल, असम में बिहू आदि।
🔹मकर संक्रांति व्रत विधि 🔹 

जयपुर में गणगौर माता की सवारी के दौरान रहेगी यातायात की विशेष व्यवस्था

पुलिस उपायुक्त यातायात श्री हैदर अली जैदी ने बताया कि प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी गणगौर माता की सवारी 30 एवं 31 मार्च को साय 6 पी.एम पर न...